रसोई से संबंधित इन बातों का ध्यान रखें, पाएंगे धन और सम्मान

स्तुशास्त्र के अनुसार हमारे घर की सुख समृद्धि का संबंध रसोई (Kitchen) से भी होता है क्योंकि रसोई घर मां अन्नपूर्णा स्थान होता हैं. ऐसे में भूलकर भी अपनी रसोई में नकारात्मक चीजों को नहीं रखना चाहिए. वास्तुशास्त्र में मान्यता के अनुसार रसोई घर में इन चीजों को नहीं रखने से पूरे घर में सुख और शांति का वातावरण बन जाएगा और दुख व क्लेश भी दूर होंगे.

आमतौर पर ये देखने में आया है कि लोग रसोईघर यानी किचन में दवाईयां रख देते हैं, ऐसा भूलवश भी हो सकता है लेकिन ये गलत है. वास्तुशास्त्र के मुतबिक रसोई घर में कभी भी दवाई नहीं रखनी चाहिए. मान्यता है कि ऐसा करने से बीमारी बढ़ने संभावना होती है. हेल्थ खराब होने की वजह इलाज में काफी पैसा खर्च हो जाता है. जिससे घर में आर्थिक संकट पैदा होता है.

कई बार लोग क्या करते हैं, रोटी बनाने के बाद बचा हुआ गुथा आटा फ्रिज में रख देते हैं और बाद उसका यूज करते हैं. वास्तुशास्त्र के मुताबिक ऐसा करना बिलकुल ठीक नहीं हैं. ऐसा करने से आपके घर पर शनि और राहु का नकारात्कम प्रभाव पड़ता है. अन्य धर्मशास्त्रों में भी गुथे हुए आटे को रखना गलता माना गया है.

वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई में कभी भी मंदिर नहीं बनाना चाहिए. क्योंकि रसोई सात्विक और तामसिक दोनों भोजन बनते हैं. ता​मसिक भोजन में प्याज और लहसुन भी आते हैं और यदि रसोई में मंदिर होने से इसका नकारात्क प्रभाव पड़ता है.

काम करते वक्त अक्सर कई बार कोई बर्तन थोड़ा सा चटक जाते हैं और बावजूद इसके आप उसे इस्तेमाल में ले लेते हैं. लेकिन बता दें कि वास्तुशास्त्र के अनुसार टूटे और चटके बर्तन रखने से घर की आर्थिक स्थिति खराब होती है और घर के मुखिया के ऊपर कर्ज बढ़ता है. साथ ही इससे आपसी मतभेद भी बढ़ते हैं.

वास्तुशास्त्र के अनुसार रसोई घर में जूते-चप्पल पहनकर जानें से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. इससे रसोई में गंदगी और किटाणु पहुंचते हैं. इतना ही नहीं, रसोई में मां अन्नपूर्णा का निवास होता है और जूते-चप्पल पहनकर जाने से उनका अपमान होता है.

About rongerwev

Check Also

तुलसी का पौधा कैसे आपका भाग्य बदल सकता है – जाने

धार्मिक ग्रंथों के अनुसार नियमित रूप से तुलसी की पूजा करने से मोक्ष की प्राप्ति …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *